चेचक (small pox )रोग को दूर करने का रामबाण उपाय

चेचक (small pox )-ये एक प्रकार का संक्रामक रोग है जो वेरिसेला जोस्टर वायरस की वजह से उत्पन्न होता है चेचक रोग कम उम्र के बच्चों में बसंत अथवा ग्रीष्म ऋतु में फैलता है| चेचक को छोटी माता (मसूरिका रोग) के नाम से जाना जाता है|चेचक रोग में शरीर पर छोटे छोटे लाल रंग के दाने बनने लगते है इन दानों का आकार मसूर के दानों के समान होने के कारण इस रोग को मसूरिका रोग के नाम से भी जाना जाता है |शुरुआत में ये दाने बहुत कम होते है फिर धिरे -धिरे पुरे शरीर में फैलने लगते है|चेचक रोग को ठीक होने में 15 -20 दिन लगते है अगर समय पर इलाज नहीं कारवाया गया तो इस रोग में जान जाने का खतरा भी होता है |

चेचक रोग का कारण –

  • ये रोग उन बच्चों में अधिक होता जिनके शरीर में गर्मी अधिक होती हैं|
  • वेरिसेला जोस्टर के जीवाणु मल -मुत्र ,नाखुन ,थूंक आदि में  अधिक मात्रा में पाय जाते है|
  • ये जीवाणु हाथों और वायु के रास्त हमारे शरीर में पहुचकर अपना प्रभाव दिखाते है |

चेचक रोग के लक्षण –

  • चेचक रोग में शरीर पर लाल रंग के दाने बनने लगते है |
  • चेचक रोग में बुखार आने के साथ-साथ बैचेनी भी होने लगती है |
  • बार-बार प्यास का लगना और शरीर में दर्द होने लगता है|
  • इस रोग में रोगी की दिल की धडकन तेज हो जाती है |
  • चेचक रोग में भुख ने लगना ,उल्टी होना ,शरीर में खुजली होना |

चेचक रोग का घरेलु इलाज –

पीपल की पतिया –चेचक रोग की समस्या होने पर पीपल की 3 से 5 पतियों को 200 ग्राम पानी में डालकर अच्छे से उबाले जब पानी एक कप  जितना  रह जाए तब रोगी को छानकर पिलाने से चेचक रोग दूर होता है इस काढ़े  का 4 -5 दिन तक नित्य सुबह शाम सेवन करने से चेचक रोग की समस्या दूर होती  है |

भूरा सिरका –चेचक रोग की समस्या में अगर शरीर में खुजली होने लगे तो आधा कप भूरे सिरके को पानी में डालकर नहाने  से चेचक रोग की खुजली दूर होगी शरीर पर निकले दानों की सुजन कम होकर सुखने लगगे नित्य नहाने से चेचक रोग की समस्या में राहत मिलती है |

नीम की पतियों –चेचक की समस्या होने पर नीम की पतियों को पानी में डालकर अच्छे से उबाले जब पानी का रंग हरा हो जाए  तब पानी को छानकर नित्य नहाने से चेचक की समस्या दूर होती है|

शहद –चेचक की समस्या होने पर शरीर पर दाग रह जाते है इन दाग को हटाने के लिए दाग पर नित्य शहद लगाने से चेचक से बने दाग  कुछ ही समय में दूर हो जाते है |

बेकिंग सोड़ा –चेचक रोग में 200 ग्राम हल्के गर्म पानी में दो चम्मच बेकिंग सोड़ा डालकर इस मिश्रण को पूरे शरीर पर लगाकर सुखने दे इस मिश्रण को नित्य लगाने से चेचक रोग जल्द ही दूर होता है |

गाजर और धनिया –चेचक रोग में एक कप कटा गाजर और एक कप कटा हरा धनिया 150 ग्राम पानी में डालकर अच्छे से उबाले जब मिश्रण हल्का ठंडा हो जाये तब पीने से चेचक रोग दूर होता है |

गीली मिट्टी –चेचक रोग के दाने अगर धीरे धीरे -सुखने लगे तो रात को सोते समय किसी पात्र में मिट्टी और जल डालकर रखे सुबह इस मिट्टी का लेप दानों पर लगाने से चेचक रोग के कारण जो चेहरे और शरीर पर निशान बने हो वो भी ठीक होगे |

कच्चे करेले -100 ग्राम कच्चे करेले को बारीक़ काटकर अच्छे से उबाले जब पानी हल्का ठंडा हो जाये तब दिन में तीन बार इस मिश्रण को पीलाने से चेचक रोग दूर होता है |

रूदाक्ष -चेचक रोग के कारण अगर जलन होने लगे तब रूदाक्ष को पानी में घिसकर लगाने से चेचक के कारण उत्पन्न जलन शांत होगी और चेचक रोग के दाने जल्दी ठीक होते है |

गेंदा का फूल-2 चम्मच गेंदा के फूल की पतिया 2 चम्मच हेजल की पतिया दो कप पानी में भिगोकर रातभर के लिए रखे सुबह इन पतियों को पीसकर पेस्ट बनाऐ इस पेस्ट को घाव पर लगाने से चेचक रोग दुर होगा |

नीबूं का रस –चेचक रोग की समस्या होने पर नित्य एक गिलास पानी में एक नीबूं  निचोड़कर पीने से चेचक रोग की समस्या दूर होती है |

Check Also

जाने गर्मियों में क्योंआती है नकसीर इसको रोकने के अचूक उपाय

Home Remedies for Nosebleed नकसीर –गर्मियों के मौसम में नाक के अन्दर से ब्लड का …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *