अदरक(Ginger) के 10 आश्चर्यचकित करने वाले गुण

अदरक(Ginger) के 10 आश्चर्यचकित करने वाले गुण

आप ने अदरक(Ginger) का उपयोग सिर्फ मसालो में या फिर चाय में ही किया होगा अदरक गुणों की खान है इसके सेवन से आप बड़ी से बड़ी  और छोटी से छोटी बीमारियों को दूर कर सकते है  अदरक(Ginger) का उपयोग भारत के अलावा अन्य देशो में भी अधिक मात्रा में किया जाता  है अदरक हमारे शरीर में पाचन समस्या  ,दांतों का दर्द ,सर्दी जुखाम और ब्लड प्रेशर को कम करता है|अदरक में प्रचुर मात्रा में  कैल्शियम ,आयरन ,आयोडीन युक्त तत्व के साथ एंटी  बैक्टीरियलऔर एंटी वायरल तत्व पाए जाते है |

अदरक के गुण –

1 यह पाचन समस्या को राहत देता है –

जिनको खाना नहीं पचता है या फिर पाचन तंत्र कमजोर है वो अदरक को अच्छे से छीलकर पीसे ले  उसके बाद थोडा सा शहद मिलाकर काँच की बोतल में डालकर 12 दिन तक धुप में रखे सुबह खाली पेट 2 -4 टुकडो का सेवन करने से पाचन तंत्र मजबुत होगा |इसके साथ सुबह खाली पेट अदरक के रस में एक चम्मच शहद मिलाकर सेवन करने से  पाचन तंत्र से सम्बंधित , पेट की सारी बीमारियों जैसे जी का मचलाना,पेट में ऐठन आदि से राहत मिलती है |

2 यह दांतों के दर्द में  राहत देता है –

दांतों का दर्द होने पर छोटा सा अदरक का टुकड़ा दर्द वाले हिस्से पर रखकर अदरक  के रस को चूसने से कुछ ही समय में दांत दर्द में  राहत मिलेगी |दांत का दर्द होने पर थोडा सा अदरक का रस निकालकर उसमे थोडा सा सेंधा नमक मिलाकर एक गिलास गर्म पानी में   डालकर कुल्ला करने से दांतों के दर्द में जल्दी राहत मिलेगी |

3 ये सर्दी जुखाम और फ्लू में राहत देता है –

अदरक का उपयोग सर्दी जुखाम और फ्लू होने पर किया जाता है आप अदरक की चाय बनाकर दिन में दो से तीन बार सेवन करने से राहत मिलती है सर्दी और जुखाम, गले के दर्द और फ्लू के लक्षणों में राहत मिलती है |150 ग्राम पानी में एक चम्मच अदरक का पाउडर डालकर अच्छे से गर्म करे जब पानी से भाप निकलने लगे तब इस भाप को सूघने से जुखाम दूर होता है  |इसके साथ आप को खांसी है तो अदरक के रस और शहद को मिलाकर गर्म करके सेवन करने से खांसी में राहत मिलेगी |

4 प्राकृतिक विरोधी सुजन है  –

अदरक का उपयोग माइग्रेनदर्द में जोड़ो के दर्द जोड़ो में सुजन को कम करने के लिए किया जाता है |इस मिश्रण को बनाने के लिए थोड़ी सी अदरक एक चम्मच शहद ,आधा नीबू और 150 ग्राम पानी मिलाकर अच्छे से पीसकर इस मिश्रण का सेवन दिन में 4 -5 बार  करने से शरीर के हर प्रकार के की प्राकृतिक विरोधी सुजन दर्द को दूर किया जा सकता है |

5 विषाक्तता को बढ़ावा देता है –

शरीर की अधिकांश बीमारियाँ पसीने के नहीं निकलने से होती है | अदरक हमारे शरीर से विषैले तत्वों को बाहर निकालकर रोम छिद्र को साफ करता है जिनको कम पसीना आता है वो नित्य 5 ग्राम की मात्रा में अदरक के रस का सेवन करने से उनके शरीर से विषैले तत्व  तेजी से बाहर निकलेगे और चर्म रोग और स्किन एलर्जी  जैसी बीमारियों से राहत मिलेगी|

6 ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करता है –

अदरक हमारे शरीर में  ब्लड सर्कुलेशन  बढ़ाने का कार्य करती  है अदरक का उपयोग चाय में  अपने भोजन में करने से ब्लड सर्कुलेशन अच्छा बना रेहता है  आप सुबह खाली पेट 5-10  ग्राम अदरक के रस का सेवन  नित्य करने से आप अपने ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ा सकते हो |

7 रक्त चाप को कम करता है  –

अदरक का उपयोग ब्लड प्रेशर को सामान्य रखने के लिए किया जाता है |ब्लड प्रेशर के रोगी थोड़ी सी अदरक को पीसकर उसके रस का सेवन सुबह खाली पेट  करने से आपका ब्लड पतला होगा अदरक ब्लड में उपस्थित ग्लूकोज की मात्रा को सामान्य रखती है जिनको बल्ड प्रेशर की शिकायत है वो अदरक के रस का सेवन नित्य करे |

8 मासिक धर्म के दर्द में राहत  –

अदरक एक दर्द निवारक औषधि है जो हर प्रकार के दर्द को दूर करती है|जिन महिलाओ  के मासिक धर्म की शिकायत है वो अगर अदरक का सेवन करे तो बहुत राहत मिलेगी |मासिक धर्म में राहत पाने के लिए महिलाए अदरक से बनी चाय या अदरक के रस का सेवन दिन में 2 -3 बार  करे तो मासिक धर्म के दर्द में शीघ्र राहत मिलती है अदरक के सेवन से  पेट दर्द के साथ ये आपके अनियमित  मासिक धर्म के चक्र और स्त्राव को सही तरीके से बनाए रखता है डिलेवरी के बाद महिला को सौठ पाक खिलाने से इंद्रिय शीथिल्था में राहत मिलती है |

9 कैंसर रोग  –

एक अध्ययन में पाया गया है कि अदरक कैंसर को दूर करने का रामबाण इलाज है इस अध्ययन में हमने ओवरी कैंसर की कोशिका पर अदरक का पाउडर और पानी के लेप को लगाये रखा कुछ समय बाद अदरक का लेप कैंसर की कोशिका के सम्पर्क में आते है ओवरी कैंसर की कोशिका स्वत: ही नष्ट हो गई या हर कैंसर की कोशिका ने आत्म हत्या करली या एक दुसरे पर हमला करके अपनी जाती को स्वत: ही नष्ट कर दिया |अदरक स्तन कैंसर ,प्रोस्टेट कैंसर ,कोलोन कैंसर को दूर करने वाली आयुर्वेदिक औषधी के रूप में जाना जाता है हमने 2 ग्राम अदरक की जड़ और प्लेसेबा को कैंसर के रोगी को 28 दिनों तक दिया और 28 दिन बाद हमें हैरान करने वाले नतीजे दिखे कोलोन कैंसर की सुजन में कमी आई और वो स्वत: ही नष्ट  होने लगा |आप जानकर हैरान हो जाओगे कैंसर रोधी दवा बीटा -एलिमन अदरक से बनाई जाती है |

10 ये आपकी पाचन गती को बढाता है –

अदरक आपके शरीर में मेटाबॉलिज्म को बहुत तेजी से बढाता है |मेटाबॉलिज्म एक प्रकिया है जब भी हम भोजन करते है तब भोजन को एनर्जी  और एंजाईम और फैट में बदलने का कार्य मेटाबॉलिज्म करता है |मेटाबॉलिज्म हमारे शरीर को एनर्जी प्रदान करता है और नए सेल्स को बनाने में मदद करता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *